Category Archives: political

कांग्रेस ने कहा हमारे विधायकों को दी गई थी 15 करोड़ की लालच

‘यूपी के लड़को’ की उम्र के बीच फंस गया मैं- योगी

उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ पहली बार मंगलवार को दिल्ली पहुंचे। जहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  अमित शाह से मुलाकात की। मुलाकात करने के बाद योगी आदित्यनाथ लोकसभा भी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि दुनिया में कहीं भी जहां चुनाव हुए हैं लोग मोदी को सीएम के तौर पर सामने रखते हैं। लोग भारत से विकास का ढांचा देखने और समझना चाहते हैं। योगी ने लोकसभा में बोलते हुए कहा कि मैं पीएम और अपनी पार्टी का आभारी हूं।

योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि मैं आदरणीय राहुल जी से एक साल छोटा हूं और उम्र में अखिलेश से एक साल बड़ा हूं। मैं दोनों की जोड़ी के बीच में जो आ गया यही आप की विफलता का बड़ा कारण हो सकता है। योगी ने इस दौरान संसद में मौजूद सभी सांसदों और मंत्रियों को यूपी आने के लिए आमंत्रित किया। योगी ने कहा कि आने वाले समय में यूपी दंगा मुक्त, गुंडागर्दी मुक्त प्रदेश बनेगा। मैं सभी सासंदों को यूपी में आने के लिए आमंत्रित करता हूं। हम विकास का ऐसा मॉडल देंगे कि वहां के युवाओं को पलायन नहीं करना पड़ेगा। आप देखते रहिएए बहुत कुछ बंदी होने जा रही है। बहुत कुछ बंद होने जा रहा है।

संसद में बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मोदी सरकार गरीबों के लिए काम करने वाली सरकार है। यह सरकार जातिए धर्म देखे बिना विकास कर रही है। यूपी सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री मोदी के सपनों का प्रदेश होगा। उन्होंने कहा कि पहले पूर्वांचल के विकास के लिए हमारी बातें नहीं सुनी जाती थी। पूर्वी यूपी बुरी तरह से पिछड़ा हुआ था। गोरखपुर से सांसद योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि पिछले तीन साल में देश की अर्थव्यवस्था काफी तेजी से बढ़ी है।

आदित्यनाथ योगी ने आगे कहा कि विकास का ढांचा कैसा होना चाहिए आज दुनिया भारत से सीखती है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में उत्तर प्रदेश में 300 से ज्यादा दंगे हुए लेकिन हमनें पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक भी दंगा नहीं होने दिया। केंद्र सरकार की जनधन योजना को आदित्यनाथ योगी ने गरीबों की योजना बताई। इसके अलावा अपने भाषण में उन्होंने पीएम द्वारा नवंबर में की गई नोटबंदी की भी सराहना की।

पाक में 900 साल पुराने शिव मंदिर में गांधी परिवार ने कराया रूद्राभिषेक

katas_temple

भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान के एक शिव मंदिर में महाशिवरात्री की पूजा के लिए सामग्री भारत से भेजी गई है। सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी ने पकिस्तान के कटसराज में स्थित करीब 900 पुराने शिव मंदिर में शिव जी का अभिषेक करने के लिए यह सामग्री भेजी है। दिलचस्प बात यह हैं कि गांधी परिवार हर साल महाशिवरात्री के दिन पाकिस्तान के इस प्राचीन कटासराज मंदिर में पूजा सामग्री भेजती हैं।

गांधी परिवार की पूजा सामग्री को हरिद्वार की सनातन धर्म संस्था के पांच सदस्यों का दल पाकिस्तान लेकर गया है। बता दें कि इस पूजा सामग्री से महाशिवरात्री पर शिव जी का अभिषेक होगा।

sonia-gandhi-and-priyanka-650_650x400_61465830288

आखिर क्यों गांधी परिवार इस मंदिर  में भेजता है पूजा सामग्री?
पकिस्तान के कटासराज मंदिर को लेकर कई मान्यताए है। इतिहासकारों और पुरात्तव विभाग की माने तो इस स्थान को शिव नेत्र माना जाता हैं। कहा जाता है कि जब मां पार्वती सती हुईं तो भगवान शिव की आंखों से दो आंसू टपके, एक आंसू कटास पर टपका जहां अमृत बन गया और यह आज भी महान सरोवर अमृत कुंड तीर्थ स्थान कटास राज के रूप में है। दूसरा आंसू अजमेर राजस्थान में टपका जहां पुष्करराज तीर्थ स्थान है।

बिहार में नए मुख्यमंत्री की मांग

देशभर के अलग-अलग राज्य में चल रहीं गठबंधन सरकारों के जारी ख़ीचतान के बीच बिहार में नए मुख्यमंत्री को नया विवाद खड़ा हो गया हैं। दरअसल, बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने अपने छोटे बेटे तेजस्वी को बिहार का नया मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर बड़ा बयान दिया है। राबड़ी देवी ने कहा कि अगर प्रदेश की जनता तेजस्वी को मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहती हैं तो वह जरूर मुख्यमंत्री बनेगें। उधर जेडीयू विधायक श्याम रजक ने राबड़ी देवी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि अभी कोई वैकेंसी खाली नहीं हैं।

tejasvi-yadav

क्या हैं पूरा मामला ?
दरअसल पिछले दिनों राजद विधायक सुरेंद्र यादव, मंत्री चंद्रशेखर और अन्य पार्टी नेताओं ने राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के सामने ही तेजस्वी को सीएम बनाए जाने की मांग की हैं। हालांकि बाद में हाजीपुर में पत्रकारों से बात करते हुए लालू ने तेजस्वी को बिहार का भविष्य का मुख्यमंत्री बताया। लालू ने कहा कि क्योंकि वह अब बूढ़े हो चुके हैं। गौरतलब है कि बिहार विधान सभा का बजट सत्र शुरू होने से पहले गुरूवार को महागठबंधन के विधायकों की बैठक में शामिल होने के लिए पहुंची राबड़ी ने पत्रकारो के सवालों का जवाब देते हुए तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाए जानें की बात कहीं ।

जेडीयू ने दिया जवाब

राबड़ी देवी के बयान के बाद जब पत्रकारों ने जनता दल यूनाइटेड के नेता और पूर्व मंत्री श्याम रजक से पूछा तो उन्होंने टिप्पणी करने से इनकार करते हुए कहा कि फिलहाल कोई वैकेंसी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की सबकों स्वतंत्रता है। फिलहाल महागठबंधन के नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही हैं।

लालू नेे दिया अखिलेश का उदाहरण
लालू ने अपने बूढ़े होने का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस प्रकार उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह ने अपने बूढ़े हो जाने के बाद अखिलेश को यूपी का नया मुख्यमंत्री बनाया था। उसी प्रकार समय आने पर तेेजस्वी भी बिहार में मुख्यमंत्री बन सकते है।